समाचार (News)

दोस्तों ! जैसा कि आप सब जानते हैं कि बुराई की हैसियत कितनी भी बड़ी क्यों ना हो अच्छा के सामने एक ना एक दिन उसे या तो झुकना पड़ता है या फिर अपने आपको नेसतनाबूद करना पड़ता है।
ऐसा ही कुछ हुआ है आतंक के आका और ISIS के प्रमुख अबू बकर अल बगदादी के साथ। कहा जाता है कि दुनिया का सबसे ख़तरनाक आतंकी संगठन के आका अपने क्रूरता के लिए जाना जाता था। लेकिन कहा जाता है ना कि मौत जब आती है तो चाहे कोई कितना भी शक्तिशाली या ख़तरनाक क्यों ना हो उसको मजबुर होना ही पड़ता है। उसे कुत्ते कि मौत मरना पड़ा।
जब अमेरिकी सेना ने उसे जब घेर लिया तब उसने भागने के लिए सुरंग का सहारा लेना पड़ा और वो भागने लगा। साथ ही तीन बच्चों को लेकर भी भागा जा रहा था। और अमेरिकी सेना के लड़ाकू कुत्ते जो उसको काटने के लिए दौड़ाए जा रहे थे। लेकिन अंत में एक सुरंग खत्म हो गई । अमेरिकी सेना  के डॉग स्क्वाड के K9 कुत्तों को अपने तरफ आते देख उसने अपने तीनों बच्चों के साथ खुद को उड़ा लिया। 
हालांकि उसकी दो बीवियां भी थीं जो अपने कमर में आत्मघाती बम बांध रखी थी लेकिन वो खुद को उड़ा नहीं पाई और वो अमेरिकी सेना के एनकाऊंटर में मारी गईं। 
ऐसा कहा जाता है कि मौत को सामने से देख बगदादी रो रहा था चिल्ला रहा था और गिड़गिड़ा रहा था और अंत में खुद को उड़ा लिया।
शनिवार 26 October को जब अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने एक नोटिफिकेशन जारी किया जिसमें उन्होंने कहा कि कुछ बड़ा हुआ है। बस क्या था दुनिया भर के लोगों ने अपने कयास लगाने शुरु कर दिया। और हुए वहीं जब ट्रंप ने ये कन्फर्म कर दिया कि we have killed ISIS Chief Baghdadi in Action मतलब हमने संसार के सबसे क्रूर आतंकी और इंसानियत की दुश्मन को मौत के घाट उतारा है। ये खबर की पुष्टि होने के बाद दुनिया भर में ये खबर आग की तरह फ़ैल गई।
अब कहा ये जाता है कि बगदादी के मरने के बाद ISIS की कमर टूट जाएगी। 


Post a Comment

1 Comments