हमारे जीवन का मकसद सही मायने में क्या होना चाहिए

दोस्तों !  हम सबने इंसान के रूप में जन्म लिया है । इंसान होने के नाते हमारे जीवन की कुछ मूल मंत्र और मकसद होते हैं जिसको अगर हमने जीते जी पूरा कर लिया तो हमारी जिंदगी पूरी हो जाती है।

हमेशा दूसरों की मदद करने कि चाह
आज हम अपने पास पड़ोसियों को देखते हैं कि हर कोई रोज किसी ना किसी चीज की चाह में रहता है। अगर वो चीज हमारे पास है तो इंसान होने के नाते हमें उनकी मदद करनी चाहिए। ऐसा करने से हमारे पड़ोसियों से रिश्ते अच्छे बनते हैं और फिर हमें एक दूसरे के काम आना चाहिए।
जब हम दूसरों की मदद करेंगे तो दूसरे भी हमारी मदद को आगे आयेंगे। जब हम कहीं जा रहे होते हैं तो हमारी यात्रा के दौरान हम बस स्टैंड, रेलवे स्टेशन, या बाजारों में देखते हैं कि वहां कोई ना कोई ( भिखारी) पैसा मांग रहा होता है । हमें वैसे जरूरत मंदों की मदद करनी चाहिए। यहां एक चीज बता दूं कि आज कल पैसे की भीख मांगना एक पेशा बन गया है। लेकिन सारे वैसे ही नहीं हैं। हमें उसकी पहचान करके उनकी मदद करनी चाहिए।
आज दुनिया में दान देने वालों की कमी नहीं है। कुछ लोग मंदिरों में, मस्जिदों में, चर्च, गुरुद्वारों में अच्छा खासा दान देते हैं। तो वहीं कुछ लोग ऐसे भी हैं जो वहां ना देकर सीधे गरीबों, जरूरतमंदों को देते हैं। कुछ लोग ऐसे भी हैं जो किसी एन. जी.ओ. जो कि एक स्वयं सहायता समूह होता है, को देते हैं।  कुछ लोग गुप्त दान देते हैं।

कभी किसी का दिल ना दुखाए


हमेंशा याद रखें कि कभी कुछ ऐसा किसी को ना बोलें, या करें जिससे उसकी आत्मा को ठेस पहुंचे उसको बुरा लगे। आजकल लोग किसी को बिना सोचे समझे कुछ के देते हैं और उसको बुरा लग जाता है। तो इस बात का ख्याल रहे की किसी को कोई बात का बुरा ना लगे।

अपने और परिवार वालों का रखें ख्याल
अपने और परिवार वालों की देखभाल करें।  मां बाप की सेवा उनकी जरूरतों को पूरा करना हमारा लक्ष्य होना चाहिए। बाल बच्चों की जरूरतें  उनकी शिक्षा उनका पालन पोषण सही से करें उनकी परवरिश  सही से करें अच्छी चीजें अच्छी बातें बताएं सिखाएं उनको। जब वो किसी बाहरी आदमी से मिलेंगे तो आपकी अच्छी परवरिश उस समय दिखेगा।

धार्मिक एवं मजहबी भावनाओं का ख्याल
हम सबको एक दूसरे के धर्म और मजहब का सम्मान और आदर करना चाहिए। और अपने अपने धर्म के अनुसार जीना चाहिए और उसका अनुसरण करना चाहिए।

दोस्तों उपर कहीं गई बातों से आप सब सहमत हैं तो  मुझे आपकी कॉमेंट का इंतज़ार रहेगा। 
अगर आपको लगता है कि कोई बात इसमें गलत है या सुधार की जरुरत है तो प्लीज़ आप सब मुझे सुझाव दें। 
धन्यवाद,!

Post a Comment

0 Comments